अनिल अंबानी

‘सभी संपत्तियां और देनदारियां केवल भारत में, विदेश में कुछ भी नहीं’

नई दिल्ली, 28 सितंबर (युआईटीवी/आईएएनएस)| अनिल अंबानी ने ब्रिटेन की अदालत में अपनी सारी संपत्ति और देनदारियों का पूरे और निष्पक्ष तौर पर खुलासा कर दिया है। उन्होंने फिर से इस बात की पुष्टि की है कि व्यक्तिगत रूप से उनके पास भारत के बाहर कोई संपत्ति नहीं है। बता दें कि यह मामला रिलायंस कम्युनिकेशंस लिमिटेड द्वारा साल 2012 में चीन के स्वामित्व वाले बैंकों से लिए गए कॉर्पोरेट लोन की व्यक्तिगत गारंटी का है, ना कि अंबानी के व्यक्तिगत ऋण का।

सुनवाई से जुड़े कानूनी सूत्रों ने कहा कि कार्यवाही के दौरान चीनी बैंकों की ओर से लगाए गए एक गलत आरोप का खंडन करते हुए अंबानी ने इस बात से इनकार किया कि उन्होंने ‘शानदार जीवनशैली’ जी है। इसके बजाय उन्होंने “सम्मानपूर्वक स्पष्ट किया कि वास्तव में वह सरल आदतों वाले एक अनुशासित और बेहद धार्मिक व्यक्ति हैं” ।

अंबानी एक जुनूनी एथलीट और मैराथन दौड़ने वाले रनर हैं, जो 50 से अधिक मैराथन /हॉफ-मैराथन में दौड़ चुके हैं।

कानूनी सूत्रों ने कहा कि अंबानी ने कहा कि वह पूरी जिंदगी शाकाहारी रहे और उन्होंने न कभी शराब का सेवन किया, ना धूम्रपान किया और ना जुआ खेला। वे अपनी मां कोकिलाबेन और परिवार के साथ सीविंड नामक एक किराए के अपार्टमेंट में रहते हैं। इसकी व्यवस्था उनके दिवंगत पिता धीरूभाई अंबानी ने की थी।

अंबानी ने उन गलत बयानों का भी खंडन किया जिसमें अनुमान लगाया गया था कि उनके पास कारों, कॉर्पोरेट जेट, एक हेलीकाप्टर और एक यॉच का कथित बेड़ा है। अंबानी ने स्पष्ट किया कि इनमें से कोई भी संपत्ति उनके पास नहीं है और वे केवल कंपनी द्वारा दी गई एक कार का उपयोग करते हैं।

अंबानी ने यह भी खुलासा किया कि ब्रिटेन में चीनी राज्य के स्वामित्व वाले बैंकों द्वारा किए गए इस मुकदमे की महंगी फीस देने के लिए और अपने कानूनी खचरें को पूरा करने के लिए उन्हें मजबूरन 9.9 करोड़ रुपये में सभी गहने बेचने पड़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *