डीजल

त्योहारों का महीना अक्टूबर में डीजल की बिक्री बढ़ी

नई दिल्ली, 17 अक्टूबर (युआईटीवी/आईएएनएस)| त्योहारों के मौसम ने अपनी दस्तक दे दी है, ऐसे में लोगों की तैयारियां भी जोर-शोर पर हैं और इसका सीधा प्रभाव डीजल की खपत पर देखने को मिल रहा है। अक्टूबर के पहले 15 दिनों में डीजल की खपत में व्यापक रूप से नौ प्रतिशत तक का इजाफा हुआ है और ऐसा लॉकडाउन के बाद पहली बार होता दिख रहा है। लॉकडाउन के बाद देश में अनलॉक की प्रक्रिया क्रमबद्ध तरीके से शुरू हो रही है। ऐसे में खरीदारी करने के लिए लोग परिवहन के साधनों का जमकर इस्तेमाल कर रहे हैं, जिससे डीजल की खपत बढ़ रही है और प्रभाव कीमत पर पड़ रहा है।

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, अक्टूबर के पहले ही पखवाड़े में 26.5 मिलियन टन के स्तर तक पहुंचने के साथ ही डीजल की बिक्री में नौ फीसदी तक का इजाफा हुआ है। सितंबर के महीने से इसमें करीब-करीब 25 फीसदी तक का इजाफा है और यह वृद्धि अपने आप में ही महत्वपूर्ण है।

अप्रैल के महीने में जब देशभर में कोरोनावायरस महामारी के प्रकोप के चलते लॉकडाउन का ऐलान किया गया, उस दौरान तेल बेचने वाली कंपनियों द्वारा ईंधन की ब्रिकी में करीब-करीब 60 फीसदी तक की गिरावट देखी गई। जून में अनलॉक की प्रक्रिया जैसे-जैसे शुरू हुई, वैसे-वैसे इनमें भी वृद्धि देखी गई।

अक्टूबर के महीने में पहले के 15 दिनों के दौरान पेट्रोल की ब्रिकी में भी बढ़ोतरी देखी गई, लेकिन दस लाख टन की खपत से इसमें करीब 1.5 फीसदी तक की कमी देखी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *